वैश्वीकरण के युग में हिंदी भाषा-डा. पवनेश ठकुराठी

Please share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

प्रस्तुत शोध आलेख में आधुनिक वैश्वीकरण के युग में हिंदी भाषा की दशा, दिशा एवं उसकी वैश्विक स्थिति का विवेचन विश्लेषण किया गया है। इस विष्लेषण के माध्यम से विश्व भर में हिंदी की स्थिति का उदघाटन करने का प्रयास किया गया है। इस हेतु विशेष रूप से डा0 जयंतीप्रसाद नौटियाल के शोध अध्ययन  को आधार बनाया गया है।

Read more

हिन्दी-उर्दू का अन्तर्संबंध और निदा फ़ाज़ली की कविता-ग़ज़ल: डॉ. बीरेन्द्र सिंह

Please share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Please share          Authors: Abstractहिन्दी और उर्दू दो भिन्न भाषाएँ न होकर एक ही भाषा की दो भिन्न शैलियाँ हैं । जिनके बीच का भेद बहुत हद

Read more

Structure of Complex Verb in Hindi- Arun Kumar Pandey, Indra Kumar Pandey

Please share
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Please share          Authors: Abstractप्रत्येक भाषा की अपनी एक व्यवस्था होती है तथा उसके अपने नियम होते हैं। इसीलिए वक्ता जो कुछ कहता है, श्रोता वही समझता

Read more