Literature Discourse साहित्यिक –विमर्श

इक्कीसवीं सदी में सांस्कृतिक विस्थापन और समकालीन हिंदी उपन्यास-

इक्कीसवीं सदी में सांस्कृतिक विस्थापन और समकालीन हिंदी उपन्यास मो. साजिद हुसैन शोधार्थी, हिन्दी विभाग जामिया मिल्लिया...

‘निर्मला जैन की आत्‍मकथा में चित्रित तत्‍कालीन समय और समाज’’-अंजू सिंह

‘निर्मला जैन की आत्‍मकथा में चित्रित तत्‍कालीन समय और समाज’’ अंजू सिंह बर्द्धमान विश्‍वविद्यालय 56/सी...

‘आई. ए. रिचर्ड्स के मूल्य सिद्धांत का आलोचनात्मक मूल्यांकन’-ऋतु

'आई. ए. रिचर्ड्स के मूल्य सिद्धांत का आलोचनात्मक मूल्यांकन' ऋतु शोधार्थी(दिल्ली विश्वविद्यालय) Email-fromriturajput@gmail.com 8076811439 शोध सारांश-       नई...

Recent

Check out more Articles

Popular