Showing 2 Result(s)
C:\Users\Hp\Desktop\sketch\pexels-photo-948620.jpeg

स्त्री द्वारा लिखे गए 2000 से अब तक प्रकाशित संस्मरण-प्राची तिवारी

संस्मरणों पर अभी तक काफी कम काम हुआ है। महिला लेखिकाओं के संस्मरणों को लेकर सुव्यवस्थिति एवं विविध आयामों को लेकर किये गये कार्य की कमी है। अत: इस शोध में उनके संस्मरणों के विविध पक्षों को उद्घाटित करने की योजना है।

संस्मरण-बहादुर:उर्मिला शर्मा

संस्मरण बहादुर उर्मिला शर्मा,सहायक प्राध्यापक,अन्नदा महाविद्यालय,हजारीबाग (झारखंड)              जब से ब्याहकर आई, तब से इस परिवार में मैनें बहादुर को एक सेवक के रूप में काम करते देखा । लंबा कद, मध्यम रंग, मध्यम तीखी नाक , अपेक्षाकृत छोटी आँखें व सपाट चेहरा। उम्र कोई पैंतीस के आसपास । अत्यंत सरलमना। यानि कि कुल मिलाकर …

error: कॉपी नहीं शेयर करें!!